मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी, Essay On My Neighbour in Hindi

Essay on my neighbour in Hindi, मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी: नमस्कार दोस्तों, आज हम आपके लिए लेके आये है मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी लेख। यह मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी, essay on my neighbour in Hindi लेख में आपको इस विषय की पूरी जानकारी देने का मेरा प्रयास रहेगा।

हमारा एकमात्र उद्देश्य हमारे हिंदी भाई बहनो को एक ही लेख में सारी जानकारी प्रदान करना है, ताकि आपका सारा समय बर्बाद न हो। तो आइए देखते हैं मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी, essay on my neighbour in Hindi लेख।

मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी, Essay On My Neighbour in Hindi

एक अच्छा पड़ोसी एक बड़ा आशीर्वाद है। हमारे दूर के रिश्तेदार भले ही हमारी परेशानियों और दुखों में हमारी मदद करने की स्थिति में न हों, लेकिन जब भी हम मुसीबत में होते हैं तो एक अच्छा पड़ोसी हमारी मदद करने के लिए तैयार रहता है।

परिचय

जब भी हमें उसकी मदद की जरूरत हो, एक अच्छा पडोसी आसानी से हमारी मदद कर सकता है। अपने वातावरण को खुशनुमा रखने और अपनी समस्याओं में आपकी मदद करने के लिए अच्छे पड़ोसियों का होना ज़रूरी है।

चूंकि मेरे पिता मंत्रालय में एक अधिकारी थे, इसलिए उन्हें हर २ साल में अलग-अलग विभागों में स्थानांतरित कर दिया जाता था और हर बार जब हम स्थानांतरित होते थे, तो हमें भी अपना स्कूल, दोस्तों, कक्षा छोड़कर नए सिरे से शुरुआत करनी पड़ती थी।

हमारे प्यारे पड़ोसी

२ महीने पहले मेरे पिता का मंत्रालय विभाग में तबादला हो गया और हम मुंबई आ गए। हम एक नई सरकारी कॉलोनी में चले गए। इस इलाके में सरकारी कर्मचारी रहते हैं।

यहां कई विभागों और मंत्रालयों के लोग रहते हैं। मेरे पड़ोसी भी मेरे पिता के आय खाते में हैं। इनका नाम सचिन गुप्ता है। उसकी हाल ही में शादी हुई है। उनकी पत्नी भी एक सरकारी विभाग में काम करती हैं। वे दोनों बहुत प्यारे हैं।

एक अन्य पड़ोसी पास के पुलिस स्टेशन में एक पुलिस निरीक्षक है। इनका नाम सागर मिश्रा है। उनका एक छोटा सा परिवार है। आपका बेटा कॉलेज का छात्र है। वह बहुत होशियार लड़का है। वह अक्सर मुझे बहुत दिलचस्प कहानियाँ सुनाते हैं। सागर अंकल स्वभाव से बहुत ही कोमल हैं। ये कभी भी अपनी शक्तियों का दुरुपयोग नहीं करते बल्कि हमेशा दूसरों की मदद करते हैं। इनकी पत्नी भी सभी की भरपूर मदद और सहयोग करती हैं।

हमारे दोनों पड़ोसी क्षेत्र के निवासियों द्वारा बहुत दयालु, मिलनसार और अत्यधिक सम्मानित हैं। वे प्रतिभाशाली बच्चों को स्कूल में दाखिला दिलाकर उनकी मदद करते हैं। वे जरूरतमंद और गरीब छात्रों को शुल्क में रियायत प्रदान करते हैं।

हमारे घर के पीछे का परिवार एक बुरा परिवार है। परिवार के इन सदस्यों को अच्छे व्यवहार और विनम्र व्यवहार के बारे में बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। छोटी-छोटी बातों पर उनका कई लोगों से झगड़ा हो जाता था। ज्यादातर लोग इस परिवार से बात करना पसंद नहीं करते।

निष्कर्ष

मैं बहुत भाग्यशाली महसूस करता हूं कि मुझे इतने अच्छे पड़ोसी मिले हैं। मेरे ज्यादातर पड़ोसी मेरे सबसे अच्छे दोस्त बन गए हैं। वे स्वभाव से सामाजिक और मददगार होते हैं।

मैं आसानी से अपना समय उनकी कंपनी में बिताता हूं। पड़ोसी कभी-कभी रिश्तेदारों से ज्यादा मददगार होते हैं, अक्सर मुसीबत के समय मदद करते हैं।

हमें अपने पड़ोसियों के बीच हमेशा दोस्ती का माहौल बनाना चाहिए। इतने अच्छे पड़ोसी पाकर मैं खुद को खुशकिस्मत मानता हूं।

आज आपने क्या पढ़ा

तो दोस्तों, उपरोक्त लेख में हमने मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी, essay on my neighbour in Hindi की जानकारी देखी। मुझे लगता है, मैंने आपको उपरोक्त लेख में मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी के बारे में सारी जानकारी दी है।

आपको मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी यह लेख कैसा लगा कमेंट बॉक्स में हमें भी बताएं, ताकि हम अपने लेख में अगर कुछ गलती होती है तो उसको जल्द से जल्द ठीक करने का प्रयास कर सकें।

जाते जाते दोस्तों अगर आपको इस लेख से मेरे पड़ोसी पर निबंध हिंदी, essay on my neighbour in Hindi इस विषय पर पूरी जानकारी मिली है और आपको यह लेख पसंद आया है तो आप इसे फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

Leave a Comment

error: Content is protected !!